loading...

घर मे शांति कैसे लाए - घर में खुशी कैसे बनाए रखे - ग्रह शांति

घर मे शांति कैसे लाए - हैप्पी होम - ग्रह शांति


हर घर की अपनी अलग अलग ख़ासियत होती है. कुच्छ घरों में कदम रखते ही मन कितना भी उदास और परेशन हो खुश हो जाता है. जिन घरों में हमेशा हँसी खुशी का माहौल बना रहता है वास्तव में वहीं घर जन्नत होता है और वहीं घर स्वर्ग होता है. हँसी और खुशी हमारे लाइफ के लिए उतना ही ज़रूरी है जितना ज़रूरी सांस लेना, पानी पीना और खाना खाना है. तो हर घर में हँसी ख़ुशी का माहौल बनाए रखना बहुत ज़रूरी है. आज हम इसी बात पर ध्यान देने वाले ही की घर मे शांति कैसे लाए? घर में खुशी कैसे बनाए रखे?



घर मे शांति कैसे बनाए रखे


घर में अगर हँसी खुशी का माहौल बना रहता है तो परिवार के हर सदस्य के दिल में एक जोश सा बना रहता है और काम में भी सबका मन लगता है. वहीं अगर घर में हमेशा सन्नाटा. रहे या उदासी का माहौल बना रहे तो बाहर से घर आने का भी मन नहीं करता और वो घर ही कैसा जहाँ आने के नाम से ही हमारा मन मायूस हो जाए. घर तो ऐसा होना चाहिए जहाँ से बाहर जाने का ही मन ना करे.


हम आप लोगों से बस इतना ही कहना चाहते है की आप लोगों का घर जैसा भी हो आप लोग अपने घर में हमेशा हँसी खुशी का माहौल बनाए रखे. अब आप लोग यह सोच रहे होंगे की घर में खुशी कैसे बनाए रखे. तो परेशान मत रहे आज हम आप लोगों को यही बताएँगे की आप लोग अपने घरों में हँसी खुशी का माहौल कैसे बनाकर रख सकते है. तो आइए जान लेते है की हम अपने घर में हँसी खुशी का माहौल बनाकर रखने के लिए क्या क्या तरीका अपना सकते है. घर मे शांति कैसे लाए.



उत्सव का आयोजन करे


अपने घर में छोटे छोटे हर मौको पर छोटा मोटा उत्सव का आयोजन करे. अपने घर की हर छोटे बड़े मौके को पूरा एंजाय करे और अपने घर में हँसी खुशी का माहौल बनाए रखे.



उत्सव मनाये


जब भी किसी का जन्मदिन या शादी समारोह आए तो उसे सर्प्राइज़ देकर खुश करे. जिस दिन किसी के जन्मदिन या शादी समारोह हो उस दिन पूरा दिन उसे सर्प्राइज़ देने की तैयारी करे. जिसका जन्मदिन या शादी समारोह है सिर्फ़ उसी से बिना बताए पूरा परिवार उसकी जन्मदिन पार्टी या शादी समारोह की तैयारी में जुट जाए. ऐसा करने से आप लोगों के घर में हँसी खुशी का माहौल तो बनेगा ही साथ साथ एक दूसरे के दिल में एक दूसरे के लिए प्यार भी बढ़ेगा.


रात को खाना खाने के बाद थोड़ी देर पूरा परिवार एक साथ बैठे. उस समय पर आप लोगों में से कोई जोक. कोई कॉमेडी करके एक दूसरे को हँसाए. आप लोग हर रात को इस काम को करे और इस काम को एक आदत की तरह बना ले.



रविवार को मस्ती करे


रविवार को सबकी छुट्टी रहती है. तो रविवार को घर पर ही कोई अच्छी सी फिल्म पूरे परिवार के साथ देखे. फिल्म देखते वक्त पॉपकॉर्न या कोई और नमकीन बनाकर 1 बड़ा सा कटोरा रख ले और एक मेंज पर इससे रखकर चारों ओर से सब लोग बैठ जाए और सामने टीवी रख ले. इस काम को एक आदत की तरह बना ले और हर रविवार को ये काम करे.



सुबह साथ में चाय ले


सुबह सब लोग जल्दी जाग जाए और अपना अपना पर्सनल काम करके जिन जिन को बाहर जाना है वो लोग बाहर जाने से पहले और जिन जिन लोगों को घर पर रहना है वो लोग घर के काम पर लगने से पहले थोड़ी देर सब लोग साथ में बैठे. आप लोग चाय पर या नास्ते पर साथ में बैठकर अपनी अपनी मन की बात अपने परिवार वालो से शेयर कर सकते है. इस काम को आप लोग एक आदत की तरह बना ले. साथ में बैठकर अगर आप लोग एक दूसरे से अपनी मन की बाते शेयर करेगें तो घर में हँसी खुशी का माहौल तो बनेगा ही साथ साथ आप लोगों का मन भी काफ़ी हल्का हो जाएगा.



एक दूसरे के लिए गिफ्ट ले


जब भी किसी को सैलरी मिले तो वो सबके लिए गिफ्ट लेकर आए. इसके अलावा भी अगर परिवार के किसी सदस्य को कोई सक्सेस या खुशी मिले तो सबके लिए गिफ्ट लेकर आए.


उपर के इस लेख को पढ़कर हमने जाना की हम अपने घर में खुशी कैसे बनाए रखे. अब आप लोग अपनी लाइफ के हर दुख और तनाव को गुड बाए बोल दीजिए और अपने अपने घरों में हँसी खुशी का माहौल बनाकर अपने घरवालो के साथ अपने लाइफ को फुल एंजाय करिए.



घर में सुख कैसे लाए


घर के लंबे समय से पड़ा पुराना तथा अनुपयोगी समान, रद्दी कागज, पुराने कपड़े, टूटी फूटी मशीनीरि जैसे बंद घड़ी, टूटा फूटा आईना, टूटी फोटो फ्रेम आदि की वजह से नकारात्मक उर्जा प्रवेश करती है जिससे घर में अशांति और कलह का माहौल बनता है. ऐसे सामान का समय समय पर निकास करते रहे. पुरानी धार्मिक पुस्तके अगर नहीं पढ़ रहे हो तो नदी में प्रवाहित करे. आमतौर पर यदि कोई वास्तु पिछले एक वर्ष से उपयोग में नहीं आ रही है तो तुरंत उसका निकास करे. चलिए जाने घर मे शांति कैसे लाए उपाय और तरीके.



घर में सुख तरीके


घर का मतलब होता है टेंसन फ्री लाइफ, सुख, चैन और आराम. जब भी हम कही बाहर होते है तो हमें हर वक़्त अपने घर की याद आती रहती है. जब हम बाहर मेहनत कर रहे होते है तो हमें बस इसी बात की खुशी होती है की घर पर जाकर हमें आराम और खुशी ज़रूर मिलेगी. लेकिन अगर हमारे घर में वो सुख – शांति ही ना हो तो हमें कही भी चैन नहीं आता है. ऐसे में हमारी ज़िंदगी में कोई भी खुशी नहीं होती है. इसलिए हमारे खुशी के लिए हमारे घर मे शांति का होना बहुत ज़रूरी होता है. लेकिन सवाल तो ये है की हम अपने घर में सुख शांति लाए तो लाए कैसे?



एक दूसरे की खुशियों का ख़याल रखे


घर का मतलब सिर्फ़ मकान और कमरा ही नहीं होता बल्कि घर का मतलब होता है परिवार. अगर एक मकान में कुच्छ लोग एक साथ रहते है और उन सबके बीच एक प्यार और अपनेपन का रिश्ता होता है तो वो परिवार एक घर में परिवर्तित हो जाता है. और अगर घर में सुख शांति का वास लाना है तो परिवार के सभी सदस्यों को एक दूसरे की खुशियों का ख़याल रखना होगा. अगर एक परिवार में हर एक इंसान एक दूसरे का ख़याल रखे तो परिवार के हर एक सदस्य के बीच प्यार और अपनेपन का संचार होता है और इस से रिश्ता तो मज़बूत होता ही है साथ साथ हमारा घर भी स्वर्ग बन जाता है और तभी हमारे घर में सुख और शांति का वास होने लगता है.



बीच बीच में घर में छोटे मोटे अवसर मनाए


अगर बीच बीच में हमारे घर में छोटे मोटे अवसर होते रहते है तो घर में हँसी खुशी का माहौल बना रहता है और साथ साथ परिवार के सारे सदस्यों के बीच में का रिश्ता और भी पक्का और करीब होने लगता है. इसलिए आप लोग भी अपने घर में बीच बीच में छोटे मोटे अवसर का इन्तेजाम करे और अपने घर में सुख शांति का प्रवेश सूनिश्चित करे.



घर में रोज पूजा – पाठ होना बहुत ज़रूरी है


अगर हमारे घर में रोज सुबह सुबह पूजा पाठ होता है तो घर में एक दिव्या और खुशनुमा माहौल बना रहता है और ऐसा करने से घर में सुख और शांति का भी प्रवेश होता है. आप लोग भी अपने घर में रोज सुबह सुबह पूजा पाठ करिए और अपने घर मे शांति को आमंत्रण करके बुला लीजिए.




  • फर्श पर पोच्छा लगाने से पहले बाल्टी के पानी में थोड़ा नमक डाल दे और उसके बाद पोच्छा लगाए और लगाने के बाद घर में अगरबत्तियाँ, धूपबत्ती हर कमरे में जलाकर खिड़की दरवाजे बंद कर दे. क्यूंकी उस स्थान पर आपसे पहले कौन लोग तथा किन परिस्थियों में रहते थे ये आपको नहीं मालूम होता है. आख़िर में स्थान के वातावरण शुद्धि तथा पवित्रता आवश्यक है.

  • हर पूर्णिमा पर सुबह के समय हल्दी में थोड़ा पानी डालकर पेस्ट जैसे बनाकर उससे घर के मुख्या दरवाजे पर ओम बनाए.

  • हर पूर्णिमा पर सुबह के समय घर के मुख्य दरवाजे/प्रवेश दरवाजे पर आम के ताजे पत्तों से बनाया हुआ तोरण बाँधे.

  • दांपत्य कलह के निवारण के लिए स्फटिक के शिवलिंग पर प्रतिदिन ओम नमः शिवाय मंत्र के उच्चारण के साथ दूध चढ़ाए.

  • घर के प्रत्याक कमरे में शंख ध्वनि से सुख शांति, रोग निवारण और महालक्ष्मी की कृपा होती है.

  • स्फटिक शिवलिंग पर प्रतिदिन दूध से अभिषेक करने से चाहे जैसा भी ग्रह कालेश हो, अशांति हो वह निश्चित रूप से दूर होगी. अभिषेक “ॐ नमः शंकराय च मयस्कराय च) मंत्र के उःचारण के साथ करे.


घर को स्वच्छ रखने के टिप्स



  • बड़ा दक्षिणवर्ती शंख लेकर प्रतिदिन पूजा करने के बाद जल भर कर रख दे, दूसरे दिन पूजा के बाद पहले उस संग्रहित जल को पूरे घर में छिड़क दे इससे ना केवल पाप का नाश होता है बल्कि ग्रह निवारण में भी सहायता मिलती है.

  • 13 की संख्या में गोंटी चकरा लेकर शिव मंदिर में शिवलिंग पर चढ़ाए. इससे नौकरी, स्थानांतरण, पड़ौन्नति आदि में सहायता मिलेगी तथा संबंधित बाधा दूर होगी.

  • गायत्री मंत्र का 11 बार जाप करने से मानसिक शांति मिलती है.

  • हम जिस भी शेज़ पर सोते है उसके नीचे पुराना तथा अनुपयोगी सामान ना रखे, इससे भी अशांति का माहौल बनता है.

  • प्रतिदिन पूजा के दौरान कपूर जलाने से नकारतमक उर्जा दूर होगी.

  • गोंटी चकरा सवत सीध होते है. बस उन्हे गंगा जल धोकर धूप अगरबत्ती दिखाएँ और रखे.

  • माँ लक्ष्मी की भरपूर कृपया पाने के लिए ग्यारह गोंटी चकरा और ग्यारह लक्ष्मीकारक कोडियाँ लाल कपड़े में लपेट कर धन के स्थान पर रखे.

  • लक्ष्मी नारायण मंदिर में पाँच शुक्रवार पाँच गोंटी चकरा चढ़ने से आरती उन्नति के मार्ग खुल जाएंगे.

  • इंसान कोम में कचरा, धूल, गंदगी, बिल्कुल ना रहने दे क्यूंकी ये दिशा भगवान शिव की होती है आख़िर में हर कमरे के इंसान का विशेष ध्यान रखे.

  • 11 गोंटी चकरा को लाल सिंदूर की डिब्बी में रख कर घर में रखे, घर में सुख शांति रहेगी.

  • घर में लाफिंग बुद्धा रखे पर वो किसी के द्वारा गिफ्ट किया हुआ होना चाहिए तथा घर में उसका मुख हमेशा मुख्य दरवाजे की और होना चाहिए.

  • गोंटी चकरा चुनते समय इस बात का विशेष ध्यान रखे की वे बड़े साइज़ के हो तथा पूर्ण हो (खंडित बिल्कुल ना हो).


ऊपर दिए गये लेख को पढ़कर आप लोगो को ये अच्छी तरह से समझ में आ गया होगा की हम अपने घर मे शांति लाने के लिए क्या क्या तरीका अपना सकते है और अपनी लाइफ को बिना किसी परेशानी के ख़ुशी ख़ुशी एंजाय कर सकते है. तो आप लोग भी हमारे इस लेख को और इश्स लेख में दिए गये कुच्छ ट्रिक्स को ध्यान से पढ़िए और अपने घर में सुख शांति लाकर अपनी लाइफ को खुशी खुशी एंजाय कर सके और अपने परिवार वालो को भी एक खुशहाल जिंदगी दीजिए.



घर मे खुशी कैसे लाए


हम सब लोग जब बाहर से घर आते है तो हम अपने घर में बस शांति ढूँढते है. ये ही एक चीज़ है जो हमें बाहर रहकर हासिल नहीं होती इसी शांति के वजह से हम सबको अपना घर बहुत ज़्यादा प्यारा होता है. लेकिन अगर हमें घर में भी शांति ना मिले तो हमें हमारी लाइफ ही जैसे बेकार लगती है. घर में धन और दौलत भले ही थोड़ा कम हो लेकिन घर मे शांति की कमी नहीं होनी चाहिए. कभी कभी हमारे कुच्छ ग्रह हमारे फेवर में नहीं रहते या यूँ कहे की कभी कभी कुछ ग्रह असांत हो जाते है जिसके वजह से हमारे लाइफ में भी बहुत सी प्रॉब्लम्स और परेशानियाँ आ जाती है. चलिए पढ़ते है की घर मे शांति कैसे लाए.



ग्रह शांति कैसे करे


कहते है ना की पैसे से सब कुच्छ खरीदा जा सकता है लेकिन शांति दुनिया की किसी भी दौलत से हम नहीं खरीद सकते है. अगर घर में रोज रोज झगड़ा और कलेश होता रहे तो वो हर घर नहीं रहता. जब हम लोग नये घर में पहली बार प्रवेश करते है तो हम अपने घर में सुख शांति बनाए रखने के लिए ग्रह शांति की पूजा करवाते है क्यूंकी हम अपने नये घर में किसी भी तरह की अशांति और कलेश नहीं देखना चाहते. लेकिन हमारे लिए ये जान कर रखना बहुत ज़रूरी है की वास्तव में ग्रह शांति की पूजा कैसे की जाती है.


आज हम अपने इस लेख में आप लोगो को यही बताएंगे की ग्रह शांति की पूजा कैसे की जाती है. तो बिना समय गवाएँ आइए जान लेते है की कैसे हम अपने घर परिवार की सुख शांति के लिए ग्रह शांति की पूजा कर सकते है ताकि आप लोगो के घर में हमेशा सुख और शांति बनी रहे और आपका घर एक जन्नत की तरह जगमगाता रहे. आइए देखते है की हम कैसे अपने घर में सुख और शांति बनाए रखने के लिए हम कैसे अपने ग्रह शांति की पूजा कर सकते है.



ब्राह्मण के द्वारा पूजा और जाप


अगर आप अपने ग्रो के अशांत होने के कारण बहुत सी परेशानियों से जूझ रहे है और आप अपने ग्रहों को शांत करना चाहते है तो आप अपने घर में किसी ब्राह्मण को बुला लाइए. और उस ब्राह्मण के द्वारा आप अपने घर में ग्रह शांति की पूजा करवा लीजिए और साथ साथ ग्रहों को शांत करने वाले मंत्रो का भी जप करा लीजिए. ब्राह्मण को ग्रह शांत करने वेल मंत्रो का पता रहता है तो आप किसी भी ब्राह्मण से ये पूजा और मंत्र जप करा सकते है. बस आपको उस ब्राह्मण को दक्षिणा देने की ज़रूरत पड़ेगी.



दस औषधि से स्नान करे


ग्रहों को शांत करने के लिए आप लोग इस यूनीक उपाय को भी अपना सकते है. इस में आपको ज़्यादा कुच्छ भी नहीं करना है बस आपको 10 औषधि से स्नान करना है. इन दस औषधि के नामे कुच्छ इस प्रकार है. लाजवंती, कूट, खेल्ला, कानगुनी, जाओ, सरसो, देवदारू, हल्दी, लौंग और नगरमोता. अगर आपने अपने ग्रहों को शांत करने के लिए ब्राह्मण द्वारा मंत्र जाप और पूजा करवा लिया है लेकिन फिर भी आपके ग्रह शांत नहीं हुए है तो आपको इन दस औषधि से स्नान करके ज़रूर देखना चाहिए. आम वास्तावली शुवर आपको इस उपाय से ज़रूर फ़ायदा होगा और आपके सारे ग्रह ज़रूर शांत हो जाएंगे.



पीपल के पेड़ की पूजा और जल अर्पण


ग्रहों को शांत करने के लिए पीपल के पेड़ का पूजा करना और पीपल के पेड़ पर जल चढ़ाना भी एक प्रमाणित उपाय है. आप इस विधि को पूरे विश्वास और श्रद्धा के साथ करिए. कहा जाता है की पीपल के पेड़ में सारे देवी – देवताओ का वास होता है और पीपल के पेड़ के पूजा करने से हमारी सारी मनोकामनाएँ पूरी हो जाती है. अगर आप पूरी निष्ठा और विश्वास के साथ इस पूरी विधि को करेंगे तो आपके ग्रह ज़रूर शांत हो जाएंगे.



पीपल के पेड़ के नीचे दीप दान


पीपल के पेड के नीचे दीप ज़लाने से भी हमारे ग्रह शांत हो जाते है. आप अपने ग्रहों को शांत करने के लिए इस उपाय को ट्राइ करके देख सकते है क्यूंकी इस उपाय को करने में आपको ज़्यादा झमेला नहीं होगा और ज़्यादा खर्चा भी नहीं होगा. बस आपको एक दीप का ही अरेंज्मेंट करना है. सो मुझे लगता है की आपको अपने ग्रहों को शांत करने के लिए एक बार इस उपाय को ट्राइ करके ज़रूर देखना चाहिए.



गौ माता की पूजा


गौ माता के अंदर बहुत सारे देवी देवता बस्ते है ख़ासकर कृष्णा भगवान का बहुत प्रिया है गौ माता. कहा जाता है की अगर हमें कान्हा जी को खुश करना हो तो हमें गौ माता की पूजा करनी चाहिए. अब ये बात तो आप लोग भी जानते होंगे की गौ माता की पूजा और सेवा करने से हमें बहुत पुण्या मिलता है. हमारे बहुत सारे ग्रह भी गौ माता की पूजा करने से शांत हो जाते है. आप लोग एक बार इस उपाय को ट्राइ करके भी देख सकते है और अपने ग्रहों को शांत करने के लिए एक छोटी सी कोशिश कर सकते है. आप जब भी गौ माता की पूजा करे तो पूरी निष्ठा के साथ करिए.



ब्राह्मणों को अन्न, धन और बिस्तर का दान


हर एक धर्म में दान को सराहा गया है और कहा गया है हमें जितना हो सके उतना दान करना चाहिए. ग्रहों को शांत करने के लिए भी दान करना एक बहुत उत्तम उपाय है. ख़ासकर अगर हम ब्राह्मणों को दान – दक्षिणा करते है तो हमारे बहुत सारे ग्रह शांत हो जाते है. आप लोग भी जितना हो सके उतना दान दक्षिणा करिए. इस उपाय को अपनाकर भी आप अपने ग्रहों को शांत करने के लिए एक छोटी सी कोशिश कर सकते है.


आज के इस लेख को पढ़कर हम सबने जाना की ग्रह शांति की पूजा कैसे की जाती है. तो अब आप लोगो के घर में सुख शांति को प्रवेश करने से कोई भी नहीं राक सकता. बस आप लोग हमारे आज के इस लेख को पढ़िए और फॉलो करिए. उम्मीद करती हूँ आप मेरी बात पर कम से कम एक बार विश्वास करेंगे और इन ट्रिक्स की ज़रूर अपनाएंगे. मुझे नहीं लगता की मुझे ये बात बताने की ज़्यादा ज़रूरत है की हमारे लिए अपने घर मे शांति का होना कितना ज़रूरी है.


अगर आप लोग वास्तव में अपने घर में सुख शांति लाना चाहते है तो इन ट्रिक्स को अपनाए. मेरा दावा है की आप लोग इस लेख से ज़रूर उपकृत होंगे. जब आप लोग इस लेख को फॉलो करके अपने घर मे शांति और चैन लाने में कामयाब हो जाएंगे तब आपको एहसास होगा की आपने जो फ़ैसला किया है वो फ़ैसला कितना सही है साथ साथ आपको इस बात का भी एहसास होगा की हमारा आज का ये लेख कितना सही और महत्वपुर्णा है.


हम लोगो का तो बस एक ही लक्ष्य है की हम आप लोगो को सही रास्ता दिखा सके यानी हम किसी भी काम को कैसे और किस तरह से करना है ये बात आप लोगो समझा सके. हम लोग ये कभी भी नहीं चाहेंगे की आप लोगो के जीवन में कभी भी कोई भी परेशानी आगे इसीलिए हम लोग अपने छोटे मोटे लेख के ज़रिए आप लोगो को समझने का प्रयास करते है. आप लोगो को बस इन आर्टिकल्स पर विश्वास करने की ज़रूरत है. में आप लोगो से वादा करती हूँ की आप लोग इस लेख से लाभवन ज़रूर होंगे. उम्मीद है की आपको लगबघ पता चल गया होगा की घर मे शांति कैसे लाए.


Related Posts -
Powered by Blogger.
HJ News Online